जब जब सिनेमा के इतिहास की बात होगी तब तब राम चरण और जूनियर एनटीआर स्टारर एसएस राजामौली की RRR का नाम भी जरूर लिया जाएगा । इस फिल्म ने हर किसी का दिल जीता नतीजतन फ़िल्म ने बॉक्स ऑफ़िस पर रिकॉर्ड तोड़ कमाई करने में कामयाब हो रही है । दुनिया भर में 1000 करोड़ क्लब में शामिल होने से लेकर 20 मिलियन की संख्या तक, यह इंडस्ट्री की सबसे बड़ी सक्सेस के रूप में सामने आई है, खास तौर  पर कोविड जैसी खतरनाक महामारी के बाद भी इसने हर ऊंचाई को छुआ है और ऐसा कर के फिल्म में न सिर्फ भारत की बल्कि दुनियाभर में सिनेमा के फ्यूचर को और ब्राइट कर दिया है ।

RRR फ़ेम राम चरण ने बताया साउथ में बॉलीवुड फ़िल्मों को अच्छा परफ़ोर्म करने का तरीका ; बॉलीवुड टैलेंट के साथ काम करने की जताई इच्छा

RRR फ़ेम राम चरण

हाल ही में इसके बारे में मेगा पावर स्टार राम चरण ने एक लीडिंग पब्लिकेशन से बातचीत की । जहां यह सवाल पूछने पर कि दक्षिण में बॉलीवुड फिल्मों की इतनी सराहना क्यों नहीं की जाती है, जबकि RRR और पुष्पा जैसी फिल्मों ने उत्तर में रिकॉर्ड तोड़े हैं तो इस पर एक्टर ने सिनेमा और उसकी बाउंड्री के बारे में खुलकर बात की।

उन्होंने कहा कि, “मैं हिंदी सिनेमा का एक ऐसा निर्देशक चाहता हूं जो एक पैन इंडिया फिल्म बनाए जो दक्षिण को भी केटर करे । सलमान (खान) ने ट्वीट करते हुए कहा, मुझे राम, राजामौली और तारक का काम बहुत पसंद है लेकिन साउथ में हमारी फिल्मों की सराहना क्यों नहीं हो रही है । उनका कहना इतना स्पष्ट और ईमानदार है, लेकिन मेरा मानना है कि यह सलमान जी की गलती नहीं है या किसी फिल्म की गलती नहीं है, यह राइटिंग है; यह निर्देशक है जिसे 'हमारा फिल्म इधर ही देखेंगे, हमारा फिल्म उधर ही देखेंगे' की इन सीमाओं को ऊपर उठना है । हर राइटर को विजयेंद्र प्रसाद (RRR) या राजामौली जैसी फिल्में लिखनी चाहिए और कहना चाहिए कि 'इसमें विश्वास करो ।

आपनी बात को पूरा करते हुए आगे सुपरस्टार ने कहा, “और निश्चित रूप से मैं एक भारतीय फिल्म बनाना चाहता हूं जहां मैं यहां (बॉलीवुड) से टैलेंट के साथ काम करना चाहता हूं । मैं चाहता हूं कि निर्देशक साउथ से टैलेंट का पता लगाएं और बड़ी फिल्में बनाएं ताकि हमारे पास बड़ा बजट हो और हम दिन के आखिर में हम बड़ी संख्या देखें ।”