दीपिका पादुकोण अभिनीत छपाक अब तक की सबसे प्रभावशाली फिल्मों में से एक है जो एक बहुत मजबूत सामाजिक संदेश देती है । यह फिल्म पिछले हफ्ते दर्शकों के बीच रिलीज़ हो चुकी है और इसके दमदार व कठिन विषय और साथ ही, दीपिका पादुकोण को मालती की भूमिका के लिए काफ़ी पसंद किया जा रहा है ।

दीपिका पादुकोण की छपाक बच्चों और बड़ो के लिए बन रही है प्रेरणा!

दीपिका पादुकोण की छपाक को सराहा जा रहा है

दर्शकों के बीच छपाक एक मजबूत सामाजिक प्रभाव पैदा कर रही है और यहां तक कि बच्चों को भी इसके बारे में जागरूक किया जाना चाहिए, ऐसा ही एक उदाहरण कालीकट में पय्यानकका हाई स्कूल के छात्र पुलिस कैडेट में देखने मिला, जहाँ उन्हें छपाक दिखाई गई है । फिल्म में दीपिका के अभिनय की सराहना करते हुए, छपाक प्रशंसकों के बीच खूब वाहवाही बटोर रही है ।

फिल्म को राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में भी टैक्स फ्री कर दिया गया है । यहीं नही, इस फिल्म ने उत्तराखंड में एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए पेंशन योजना शुरू करने के लिए भी प्रेरित किया है ।

मेघना गुलजार द्वारा निर्देशित और केए प्रोडक्शंस व फॉक्स स्टार स्टूडियोज द्वारा निर्मित फ़िल्म छपाक 10 जनवरी 2020 में रिलीज हो चुकी है । साथ ही, फिल्म फॉक्स स्टार स्टूडियोज द्वारा प्रस्तुत की गई है ।

फिल्म के गाने और इसकी झंझोड़ कर रख देने वाली कहानी लंबे समय तक याद रहने वाली है, क्योंकि यह 'परिवर्तन' के लिए अपने आप में एक आंदोलन है । थीम सॉन्ग छपाक से ले कर 'अब लड़ना है' और 'मुँह दिखाई 2.0' तक, सभी कैंपेन मिरर इमेज की तरह है जिन्हें दर्शकों द्वारा बेहद पसंद किया गया है ।

एक एसिड अटैक सर्वाइवर के जीवन पर आधारित छपाक में पीड़िता के आत्मविश्वास को एक सबक के रूप में पेश किया गया है और यह उन लोगों के लिए एक प्रेरणा है जिन्होंने इसी तरह की स्थिति का सामना किया है ।