भारत इस समय बेहद बुरे हेल्थ क्राइसेस से गुज़र रहा है । आए दिनों कोविड-19 कोई न कोई नई समस्याएं लेकर आ रहा है । ऐसी मुश्किल की घड़ी में यह जरूरी है कि हम सभी आगे बढ़ कर जरूरतमंदों की हर संभव मदद करने की कोशिश करें । ऐसे में राशी खन्ना उन गरीब परिवारों की सहायता करेंगी जिन पर इस महामारी ने लॉकडाउन के चलते गहरा प्रभाव छोड़ा है । राशी खन्ना जरूरतमंद लोगों की मदद करने में पीछे नहीं हट रही हैं ।

कोरोना पीड़ित लोगों के लिए भोजन जुटाने के लिए राशी खन्ना ने शुरू की #BeTheMiracle पहल

राशी खन्ना ने की जरूरतमंद लोगों की मदद

राशी संकट की इस घड़ी में जरूरतमंद लोगों की सक्रिय रूप से मदद करने के लिए  काम कर रही है । राशि की पहल #BeTheMiracle के तहत जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने के लिए कार्यरत हैं । वे कोविड के इस समय में उन लोगों की मदद करने के लिए अथक प्रयास कर रही है जिन्होंने अपनी आजीविका खो दी है। राशी इस नेक काम को बिना किसी को जताए चुपचाप सेवा करने में लगी हुई हैं। ऐसे में वे उनकी फैमिली और दोस्तों के कहने पर इस बात का खुलासा करने के लिए तैयार हुई हैं ताकि सामान्य विचारधारा रखने वाले दयालु लोग इस इनिशिएटिव का हिस्सा बन ज़रूरतमंदों की सेवा करने के लिए आगे आएं ।

1c140d0a-0935-4c5d-9465-026d9021b4e9

#BeTheMiracle के साथ साथ राशी रोटी बैंक जैसे संस्थाओं और स्वयंसेवको के साथ जुड़ी हैं जो उन जानवरों की मदद कर रहे हैं जिन्हें विशेष रूप से लॉकडाउन के दौरान बिना भोजन या पानी के छोड़ दिया गया था। साथ ही, वे  कुछ वृद्धाश्रम की सेवा में तत्पर हैं। इस क्षेत्र में कार्य करने के बाद उन्हें इस बात का एहसास हुआ कि दोस्तों और परिवार से मिला हुआ डोनेशन पर्याप्त नहीं है, यह तो समंदर में एक बूंद पानी की तरह है। उनकी टीम ने मौजूदा हकीकत को दर्शाते हुए एक वीडियो का दस्तावेजीकरण किया है जिससे यह उम्मीद की जा रही है कि यह लोगों को आगे आने और मदद करने के लिए प्रोत्साहित करेगा ।

7af150eb-7b4e-4591-9028-71a0cf5081ba

इस इनिशिएटिव के बारे में राशी खन्ना का मानना है कि ,“महामारी से पीड़ित लोगों की दशा दिल दहला देने वाली है। #BeTheMiracle के जरिए मैं लोगों की हर मुमकिन मदद करने की कोशिश कर रही हूं। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे एक ऐसी टीम का साथ मिला है जो इतनी  बहादुर हैं, कि इस महामारी में भी  घर से बाहर निकलकर लोगों की समस्याओं को सामने ला रही हैं। कई परिवार भुखमरी के कगार पर हैं जो हकीकत में बहुत ही बुरे समय से गुज़र रहे हैं। मैं चाहती हुं कि लोग दिल खोलकर डोनेशन करें, तिनका तिनका भी मायने रखता है। यह एक अत्यधिक राशि होना जरूरी नहीं है। हमें इस बात का एहसास होना चाहिए कि हम सब इस समय एक साथ हैं और केवल एक साथ रहकर ही हम इस कठिन समय को पार कर सकते हैं। और साथ में हम किसी के भी जीवन में चमत्कार ला सकते हैं ।”