बॉलीवुड की ‘बेबी डॉल’ सिंगर कनिका कपूर के Covid-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें 20 मार्च को लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएशन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (पीजीएम) अस्पताल में आईसोलेशन वॉर्ड में एडमिट कराया गया । जहां शुरूआती रिपोर्ट्स में कनिका कपूर का Covid-19 टेस्ट पॉजिटिव आ रहा था वहीं अब छठी बार ये टेस्ट नेगेटिव आया है । डॉक्टर्स ने भी कहा था कि कनिका कपूर में कोरोना वायरस के गंभीर लक्षण नहीं दिख रहे हैं । इसलिए लगातार दूसरी बार उनकी Covid-19 टेस्ट नेगेटिव आने के बाद अब कनिका को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है ।

कनिका कपूर का लगातार दूसरी बार Covid-19 टेस्ट आया नेगेटिव, लेकिन इस शर्त पर कनिका को अस्पताल से मिली छुट्टी

कनिका कपूर में नहीं थे कोरोना के गंभीर लक्षण

कनिका भले ही घर के लिए डिस्चार्ज हो गई हैं लेकिन उन्हें अभी घर में भी सतर्कता के साथ 14 दिनों के लिए आइसोलेशन में रहना होगा । कनिका की शुरूआती कई रिपोर्ट्स कोरोना पॉजिटिव आई थीं जिसके बाद उनके परिवारवाले काफी परेशान हो गए थे । हालांकि डॉक्टर्स का कहना था कि कनिका एकदम ठीक हैं । बता दें कि, कोरोना पॉजिटिव मरीज का हर 48 घंटे बाद कोरोना वायरस का टेस्ट किया जाता है । ऐसे में कनिका के लगातार दो टेस्ट नेगेटिव पाए गए इसलिए उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया।

अभी कुछ दिन पहले संजय गांधी पोस्टग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस के डायरेक्टर डॉक्टर आरके धीमान ने कहा था कि कनिका कपूर में अब कोरोना के कोई गंभीर लक्षण नहीं दिख रहे, उनकी तबीयत पहले से स्थिर और अच्छी है । वह सामान्य रूप से भोजन भी ले रही हैं ।

यह भी पढ़ें : चौथी बार भी Covid-19 पॉजिटिव पाईं गई कनिका कपूर ने सोशल मीडिया पर पहली बार बयां किया अपना हाल

आपको बता दें कि कनिका, 9 मार्च को लंदन से मुंबई लौटी थीं, इसके बाद वह लखनऊ गईं और कई पार्टियों में शामिल हुईं । कनिका अपनी खराब तबीयत को दिखाने डॉक्टर के पास गई तब उन्हें पता चला कि वह कोविड-19 पॉजिटिव हैं । इसके बाद उन्हें आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ़्ट कर दिया गया । कोरोना महामारी फ़ैलने के दौरान कनिका ने विदेश से आने के बावजूद अपनी ट्रेवल डिटेल छुपा कर सभी को परेशान कर दिया है क्योंकि उनकी वजह से कई लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने का अंदेशा है ।