हिचकी के बाद एक बार फ़िर रानी मुखर्जी बड़े पर्दे पर मर्दानी बनकर लौट रही है । साल 2014 में रिलीज हुई फ़िल्म मर्दानी का सीक्वल मर्दानी 2 जल्द ही सिनेमाघरों में दस्तक देने वाली है । फ़िल्म के ट्रेलर ने हर किसी को झकझोर दिया है । ट्रेलर में रानी मुखर्जी महिलाओं के साथ वीभत्‍स तरीके से बलात्‍कार करने वाले दंरिंदे को तलाशती नजर आ रही हैं । ट्रेलर में राजस्‍थान के कोटा शहर की कहानी को दिखाया गया है जहां पूरे देश से बच्‍चे पीएमटी और आईआईटी की कोचिंग करने के लिए जाते हैं । लेकिन पिछले दिनों ये फ़िल्म कोटा शहर के उल्लेख के कारण विवादों से घिर गई थी ।

रानी मुखर्जी की मर्दानी 2 के विवाद को खत्म करने के लिए मेकर्स ने लिया ये फ़ैसला

रानी मुखर्जी की मर्दानी 2 के विवाद को मेकर्स ने शांत किया

जहां रोंगटे खड़े कर देने वाले विजुअल्स और चौंका देने वाला स्क्रीनप्ले दर्शकों को फिल्म देखने के लिए और ज्यादा उत्साहित कर रहे हैं वहीं फ़िल्म में इस्तेमाल किया कोटा का नाम फ़िल्म के लिए मुसीबत बन गया है ।

यशराज प्रोडक्शन के बैनर तले बनी रानी की फिल्म मर्दानी 2 को लेकर शहर के कई व्यापारिक व सामाजिक संस्थानों ने विरोध जताते हुए प्रतिबंध लगाने की मांग की । विरोधियों के मुताबिक,फिल्म में कोटा शहर की खराब छवि दिखाने की कोशिश की गई है । क्योंकि कोटा में पूरे देश से बच्‍चे पीएमटी और आईआईटी की कोचिंग करने के लिए जाते हैं ऐसे में शहर की छवि खराब होने का खतरा है । इसलिए मांग की गई कि फ़िल्म में से कोटा का नाम हटाया जाए ।

शहर की प्रतिष्ठा को धूमिल नहीं करना चाहते थे मेकर्स

विवाद बढ़ता देख अब मेकर्स ने फ़ैसला किया है कि वह कोटा नाम हटा देंगे । इस बारें में फ़िल्म के निर्देशक गोपी पुत्रन ने बताया है कि उन्होंने अपनी फिल्म की कहानी को असल जिंदगी की घटनाओं से प्रेरित बतलाया और कोटा शहर का उल्लेख किया जिससे एक गलत मैसेज जा रहा है । इसलिए यशराज फ़िल्म्स ने फ़िल्म में उल्लिखत सत्य घटनाओं से प्रेरित लाइन को हटाने का भी फ़ैसला किया है ।

यह भी पढ़ें : रानी मुखर्जी की मर्दानी 2 यमुना एक्सप्रेस वे की खौफ़नाक वारदात पर बेस्ड है ?

आदित्य चोपड़ा के प्रोडक्शन और गोपी पुत्रन के निर्देशन में बनी मर्दानी 2, 13 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी । इस फ़िल्म में एक बार फ़िर रानी इंस्पेक्टर शिवानी शिवाजी रॉय का किरदार निभा रही हैं ।