फिल्म मेकर विवेक रंजन अग्निहोत्री अपने अगले प्रोजेक्ट द दिल्ली फाइल्स की मेकिंग में बिजी हैं । फिल्म की घोषणा के बाद से ही चर्चा का माहौल बना हुआ है, जो एक ग्रैंड स्केल पर एक ग्राउंडब्रेकिंग कहानी का वादा करती है। एक हालिया अपडेट में, आई एम बुद्धा के प्रोड्यूसर ने एक बड़ा कदम उठाया है, जिसमें उन्होंने द दिल्ली फाइल्स में महात्मा गांधी और मुहम्मद अली जिन्ना की अहम भूमिकाओं के लिए पैन इंडिया लेवल पर कास्टिंग शुरू की है।

विवेक रंजन अग्निहोत्री को द दिल्ली फाइल्स में महात्मा गांधी और मोहम्मद अली जिन्ना के रोल के लिए चाहिए आर्टिस्ट ; दिया कास्टिंग अलर्ट

विवेक रंजन अग्निहोत्री को द दिल्ली फाइल्स के लिए चाहिए कलाकार

विवेक रंजन अग्निहोत्री की अपकमिंग फिल्म द दिल्ली फाइल्स मोमेंटम और पैमाने हासिल कर रही है। टीम ने फिल्म के लिए गहरी रिसर्च की है, और अब प्रोड्यूसर ने देश भर के लोगों के लिए नेशनवाइड कास्टिंग के अवसर खोलकर एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। आई एम बुद्धा और अभिषेक अग्रवाल आर्ट्स उन एक्टर्स की तलाश कर रहे हैं, जो  द दिल्ली फाइल्स में महात्मा गांधी और मुहम्मद अली जिन्ना की भूमिकाओं को निभाना चाहते हैं।

यह पहली बार है जब किसी फिल्म के लिए कास्टिंग इतने बड़े पैमाने पर खोली गई है, जिससे आम लोग भी इसमें भाग ले सकें और फिल्म का हिस्सा बन सकें। यह उन लोगों के लिए एक सुनहरा मौका है, जो मानते हैं कि उनमें एक्टर बनने का टैलेंट है।

विवेक रंजन अग्निहोत्री ने अपने सोशल मीडिया पर कास्टिंग की जानकारी शेयर करते हुए लिखा है, “कास्टिंग अलर्ट: #TheDelhiFiles के लिए मोहनदास करमचंद गांधी और मोहम्मद अली जिन्ना की तलाश है।

विवेक रंजन अग्निहोत्री ने अपनी फिल्म के लिए सटीक और अहम जानकारी जुटाने के लिए केरल से कोलकाता और फिर दिल्ली तक लंबी दूरी तय की है। उन्होंने अपनी फिल्म की कहानी में सच्चाई की हर एक परत जोड़ने के लिए असल कहानी वाली एतिहासिक घटाओं से जुड़ी 100 से ज्यादा किताबें और 200 से ज्यादा लेख पढ़ें हैं, जो उनकी फिल्म का आधार है। विवेक रंजन अग्निहोत्री और उनकी टीम ने रिसर्च वर्क के लिए 20 राज्यों की यात्रा की है। इसके अलावा, उन्होंने 7000 से ज्यादा रिसर्च पेजेस और 1000 से ज्यादा आर्काइव्स पर स्टडी की है।

विवेक रंजन अग्निहोत्री द्वारा द दिल्ली फाइल्स की रिसर्च में की गई बहुत सारी मेहनत और डेडीकेशन उनकी आर्ट के लिए कमिटमेंट को दर्शाता है, जिससे दर्शकों को एक दमदार और बेहद जुड़ाव महसूस कराने वाली फिल्म की उम्मीद है।