भारत में विभिन्न राज्यों से वंचित लड़कियों को शिक्षा प्रदान करने में मदद करने के लिए अंशुला कपूर की फैनकाइंड ने तापसी पन्नू के साथ नन्ही कली से हाथ मिलाया है । इस अभियान के लिए दान करने वाले कई प्रशंसकों में से तापसी पन्नू अपने 5 प्रशंसकों के साथ वर्चुअल डेट पर जाएंगी । तापसी पन्नू ने पहले भी नन्ही कली के साथ निकट सहयोग में काम किया है इसीलिए उन्होंने अपने प्रशंसकों के साथ बातचीत के इस अवसर और एक ही समय में युवा लड़कियों की मदद करने के लिए तुरंत सहमती दिखाई ।

 वंचित लड़कियों को शिक्षित करने की दिशा में तापसी पन्नू ने उठाया सराहनीय कदम

तापसी पन्नू नेक काम से जुड़ीं

तापसी ने एक बहुत ही वैध मुद्दे को मद्देनजर रखते हुए कहा, “यदि आप एक आदमी को शिक्षा देते है तो आप एक व्यक्ति को शिक्षित कर रहे हैं, लेकिन अगर आप एक औरत को शिक्षा देते है तो आप पूरे देश को शिक्षित करते है । हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि कोई भी युवा महिला शिक्षा से वंचित न रहे । नन्ही कली मेरे दिल के बहुत करीब हैं और मैं अपने प्रशंसकों से अनुरोध करती हूं कि वे आगे आएं और इन वंचित लड़कियों को शिक्षित करने के लिए अपनी क्षमता से बेहतर से बेहतर दान करें । इस क्रिसमस चलो इन लड़कियों के सफल भविष्य की प्रार्थना करे ।”

यह अभियान 7 दिसंबर से शुरू होकर 21 दिसंबर को खत्म होगा । फ़ैनकाइंड फंड जुटाने का मंच प्रशंसकों के लिए विशिष्ट क्यूरेट अनुभवों के माध्यम से अपने पसंदीदा हस्तियों के साथ कनेक्ट करने के लिए एक मौका देता है, जिससे भारत भर में विभिन्न दान के लिए धन जुटाने में मदद मिलती हैं ।

नन्ही कली के बारे में :-

भारत की वंचित लड़कियों को शिक्षित करने के उद्देश्य से महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा द्वारा 1996 में 'अ लिटिल बड' में अनुवाद करने वाली परियोजना नन्ही कली की शुरुआत की गई थी । यह परियोजना कम उत्पन्न वाले परिवारों की लड़कियों को औपचारिक स्कूली शिक्षा के 10 साल पूरे करने के लिए समर्थन करती है । भारत में पहले से ही हर 1000 लड़कों के लिए 9 14 लड़कियों का खराब लिंग रेशो है और शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब महिला साक्षरता दर क्रमशः 65% और 46% है । यह परियोजना वर्तमान में पंजाब, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडू सहित भारत के 10 राज्यों में 153, 999 लड़कियों का समर्थन करती है ।