अगस्त 2017 में, पहलाज निहलानी ने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) यानी सेंसर बोर्ड के चेयरपर्सन के पद से इस्तीफ़ा दिया था, और इस खबर ने बहुत सारे फिल्ममेकर्स और सिनेप्रेमियों को खुश कर दिया था । क्योंकि जब से पहलाज निहलानी ने 2015 की शुरुआत में सेंसर बोर्ड के प्रमुख के पद को संभाला था, तब से उन्होंने बहुत सी फिल्मों पर अपने 'संस्कारी उसूलों' की कैंची चलाई थी यहां तक की मेकर्स को उनकी फ़िल्मों के कुछ शॉट्स को, जो इतने आपत्तीजनक नहीं थे, को जबरन हटाने के लिए कहा ।

'संस्कारी' सेंसर बोर्ड ने फ़िर चलाई अपने उसूलों की कैंची, गली बॉय में रणवीर सिंह और आलिया भट्ट के 13 सेकेंड लंबे किसिंग सीन को काटा

मिस्टर संस्कारी पहलाज

इसी वजह से पद पर रहते हुए पहलाज निहलानी को आलोचनाओं का सामना करना पड़ा । इतना ही नहीं जेम्स बॉन्ड की फिल्म, स्पेक्टर [2005] में 22 सेकंड के चुंबन दृश्य को कम करने पर उन्होंने खूब आलोचना झेली । इसी के बाद उन्हें 'मिस्टर संस्कारी' का नाम दिया गया । और उन पर कई मीम्स और जोक्स भी बनाए गए ।

सेंसर बोर्ड ने गली बॉय के स्मूचिंग शॉट को छोटा किया

इसलिए जब पहलाज ने अपने पद से इस्तीफ़ा दिया तो सभी को लगा कि अब सेंसर बोर्ड इतना 'संस्कारी' नहीं रहेगा । पहलाज निहलानी की जगह प्रसून जोशी ने ले ली, जिन्हें पहलाज की तुलना में अधिक उदार व्यक्ति के रूप में देखा गया । लेकिन सेंसर बोर्ड को लेकर अब भी चीजें नहीं बदली है । क्योंकि अब भी अजीबो-गरीब फ़ैसले लागू होते आ रहे है । पद्मावती का नाम बदल कर पद्मावत करने का फ़ैसला करने पर सीबीएफसी मजाक का पात्र बन गया । पिछले महीने, सिने प्रेमी और फ़िल्ममेकर इमरान हाशमी हैरान रह गए थे जब उनकी फ़िल्म चीट इंडिया का नाम बदलकर वाय चीट इंडिया कर दिया गया ।

गली बॉय के अपशब्दों को बदला

इतना ही नहीं एडल्ट फ़िल्मों में भी अपशब्दों को म्यूट कर दिया जाता रहा है । यहां तक की इंटीमेट सीन को भी सेंसर का सामना करना पड़ा है । और अब गली बॉय को भी सेंसर बोर्ड की कैंची का सामना करना पड़ा है । गली बॉय में रणवीर और आलिया लीड रोल में नजर आएंगे और ट्रेलर में नजर आई दोनों की कैमिस्ट्री खूब सराहना बटोर रही है । लेकिन फ़ैंस को इस बात से काफ़ी निराशा होगी कि फ़िल्म में रणवीर और आलिया के बीच हुई जुनुनी 13 सेकेंड का किसिंग सीन को बदल दिया गया है । सेंसर बोर्ड द्दारा कटौती की सूची के अनुसार फ़िल्म में रणवीर और आलिया का स्मूचिंग शॉट जो 13, सेकेंड का था, उसे छोटा कर दिया है । और इसके अलावा, इसे एक व्यापक शॉट से बदल दिया गया है ।

फ़िल्म में कुछ और कटौती भी की गई है

फ़िल्म में कुछ और कटौती भी की गई है । रॉयल स्टैग का उल्लेख ‘Brand Parnters’ की सूची में किया गया है लेकिन इस लोकप्रिय व्हिस्की ब्रांड का नाम हटा दिया गया है ! जैसा की आपने पिछली फ़िल्मों में भी देखा होगा कि शराब ब्रांडों के नाम बोतलों से ब्लर कर दिया जाता है लेकिन ब्रांड पार्टनर का नाम हटा दिया जाता है, केवल इसलिए क्योंकि यह एक मादक पेय है ।

गली बॉय कुछ अपशब्द हैं, जैसे- ‘G***u’, ‘h********e’, ‘h*********i’, ‘f*****g’ , जिन्हें हल्के-फ़ुल्के शब्दों से बदल दिया गया है । और हां, सभी धूम्रपान दृश्यों में धूम्रपान विरोधी स्थैतिक चेतावनी संदेश डाला गया है ।

यह भी देखें : सलमान खान, शाहरुख खान, आमिर खान, प्रसून जोशी और सीबीएफ़सी पर पहलाज निहलानी का एक्सक्लूसिव इंटरव्यू

जोया अख्तर द्दारा निर्देशित फ़िल्म गली बॉय इस वेलेंटाइन डे के दिन यानी 14 फ़रवरी को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है । यह फ़िल्म असल जिंदगी के रैपर्स डिवाइन और नेजी की जिंदगी पर आधारित है । जोया की फ़िल्म गली बॉय को 8, फ़रवरी को सेंसर प्रमाण पत्र मिल गया । यह फ़िल्म 155 मिनट लंबी है ।