सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने ड्रग्स एंगल केस की जांच में फ़ंसी बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को पूरे एक साल बाद कुछ राहत दे दी है । मुंबई की एक कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती की एक याचिका को स्वीकार कर लिया जिसमें उन्होंने अपने बैंक अकाउंट को अनब्लॉक करने की अपील की थी ।

सुशांत सिंह राजपूत ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती को मिली थोड़ी राहत, NCB शर्तों के साथ डीफ्रीज करेगी बैंक अकाउंट, शर्तों के साथ वापस देगी लैपटॉप-मोबाइल

रिया चक्रवर्ती को मिली राहत

दरअसल, सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद ड्रग केस की जांच कर रही NCB ने रिया के अकाउंट फ्रीज कर दिए थे । स्पेशल कोर्ट ने बुधवार को उनके अकाउंट डीफ्रीज करने का आदेश दिया है । कोर्ट ने नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस यानी NDPS एक्ट के तहत रिया को अपने बैंक खातों का इस्तेमाल करने की इजाजत दी । कोर्ट ने उनके मैकबुक प्रो और आईफोन जैसे गैजेट्स भी लौटाने के निर्देश दिए हैं ।

रिया ने अपनी याचिका में कहा कि वह पेशे से एक्ट्रेस और मॉडल हैं और NCB ने बिना किसी कारण के 16 सितंबर 2020 को उनके बैंक खातों और FD को फ्रीज कर दिया था । रिया ने कहा कि कर्मचारियों को सैलरी देने और GST समेत अलग-अलग टैक्स भरने के लिए उसे अपने अकाउंट्स को ऑपरेट करने की जरूरत है । रिया ने यह भी कहा कि उसका भाई भी उस पर डिपेंडेंट है ।

शर्तों और एफिडेबिट पर  मिली राहत

रिया के बैंक अकाउंट की डीफ्रीजिंग की अनुमति शर्तों और एफिडेबिट पर अंडरटेकिंग के बाद दी गई है । इस एफिडेबिट में कहा गया है कि ट्रायल के खत्म होने तक, रिया के बैंक अकाउंट में 16 सितंबर, 2020 जितनी राशि थी, उतनी ही अगले आदेश तक और जरूरत पड़ने पर रहनी चाहिए । जज ने उचित वेरिफिकेशन और आइडेंटिफिकेशन के बाद रिया के फोन और लैपटॉप को दोबारा देने पर सहमति जताई. रिया ने अपनी याचिका में इसकी मांग भी की थी । कोर्ट ने रिया को लैपटॉप और मोबाइल वापस देने के लिए 1 लाख रुपये के क्षतिपूर्ति बांड को भरवाया है ।

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद ड्रग्स का ऐंगल सामने आने के बाद एनसीबी ने रिया और उनके भाई शौविक सहित कई लोगों को ड्रग्स की खरीद-फरोख्त करने के आरोप में गिरफ्तार किया था । हालांकि बाद में रिया और शौविक को जमानत पर रिहा कर दिया गया । अभी सुशांत के केस की जांच सीबीआई कर रही है ।